नगर निगम बठिंडा के कर्मचारियों द्वारा कूड़े-करकट के ढेर को आग लगाना सही है ?


बठिंडा शहर के मॉडल टाउन फेज-3 के गेट के पास पिछले कई दिनों से कूड़े करकट का ढेर लगा हुआ था। उस जगह यहाँ पर कोई कूड़े करकट का डंप भी नहीं है फिर भी कूड़ा करकट के ढेर लगे रहते हैं । उस जगह से कूड़ा करकट कई कई दिनों तक भी नहीं उठाया जाता उस जगह पर कूड़ा करकट दिन व् दिन बढ़ता ही जाता है (साथ में दो फोटोज भेज रहा हु मिति 10.06.2019 की) जिसमें दिखाई दे रहा है कूड़ा करकट कई दिनों से नहीं उठाया गया और बाद में नगर निगम बठिंडा के सफाई कर्मचारियों द्वारा उस कूड़े करकट के ढेर को आग के हवाले कर दिया गया है। उस सड़क पर सुबह से लेकर रात तक बहुत सारा ट्रैफिक रहता है अगर कोई घटना घट गयी तो कौन जुम्मेबार होगा। नगर निगम बठिंडा के कर्मचारी ही ऐसा करेंगे तो नगर निगम बठिंडा लोगों को कूड़े-करकट को आग ना लगाने बारे और आग लगाने पर इससे होने वाले नुक्शान के बारे में लोगों को क्या समझायेगी।

2 Likes

मुझे यह समझ में नहीं आता है की जब कार्पोरेशन खुद ही गलत काम करेगी या करती है तो हम लोगों को सही करने के लिए कैसे कहेगी? कह सकेगी?

1 Like

हैलो बठिंडा!